Vaibhav Laxmi Vrat Katha/Story in hindi

Vaibhav Laxmi Vrat Katha/Story in hindi वैभव लक्ष्मी व्रत कथा/कहानी   एक शहर था। उसमें लाखों लोग रहते थे। सभी अपने-अपने कामों में रत रहते थे। किसी को किसी की परवाह नहीं थी। भजन-कीर्तन, भक्ति-भाव, दया-माया, परोपकार जैसे संस्कार कम हो गए। शहर में बुराइयाँ बढ़ गई थीं। शराब, जुआ, रेस, व्यभिचार, चोरी-डकैती वगैरह बहुत […]

Continue reading