Krishna Arjun and Kanha Chitchor quotes

Krishna and Arjun Quotes

दुर्योधन ने श्री कृष्ण की पूरी नारायणी सेना मांग ली थी।

और अर्जुन ने केवल श्री कृष्ण को मांगा था।

 

उस समय भगवान श्रीकृष्ण

 ने अर्जुन की चुटकी लेते हुए कहा:-हार निश्चित हैं तेरी, हर दम रहेगा उदास ।माखन दुर्योधन ले गया, केवल

 छाछ बची तेरे पास ।

 

अर्जुन ने कहा :- हे प्रभु जीत निश्चित हैं मेरी, दास हो नहीं सकता उदास ।

माखन लेकर क्या करूँ,जब माखन चोर हैं मेरे पास ।

 

                 “जयश्रीकृष्णा”

           आपका दिन मंगलमय हो,

                    शुभ प्रभात

 

Hey Kanha Chitchor..

हे कान्हा ….

चित चोर ग्वाले आ भी जा

मन मंदिर सुना सुना है

जो पुष्प लता बिन फूलो के 

जो तट यमुना बिन झूलो के,

मुरली वाले घनश्याम पिया

 

… नन्द लाल पिया ….

हम जीवन कटुता के हाथो

बस मौन रहे मजबूर रहे ,

पर जिसमे प्रियतम बोल पड़े

 वो बातें अधर पे आ न सकी,

तुम  आओगे तो नैनो कि

 पुतली में तुम्हे बिठाऊँगी ,

तुम आओगे तो हिरदय के

 झूले मैं तुम्हे झुलाऊँगी ,

चित चोर ग्वाले आ भी जा

 ….मन मंदिर सुना सुना है …..!!!!

 

मेरे सांवरे,

 

तुम्हारी यह प्यारी निगाहें याद रहेंगी, मिल कर न मिलने की तुम्हारी अदा याद रहेगी.. ये कभी भी मुमकिन नही कि मैं तुम्हे भुला दू , क्यूंकि उमर भर तुम्हें भी मेरी याद तो आती रहेंगी..

 

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.