Bhagwan ka Bhajan kab kare

Bhagwan ka Bhajan kab kare

भगवान की पूजा भक्ति भजन किस समय करें?

हम सब सोचते हैं कि भगवान को किस समय याद करें? क्या भगवान के भजन का कोई समय है, यदि है तो कौन है? भगवान की भक्ति किस समय करें?

इन्हीं सवालों का जवाब देते हुए मोरारी बापू एक कथा में बता रहे हैं कि

लोग कहते हैं, कब करें भजन?

सुबह में करें? मेरे पास लोग आते हैं, सुबह में 4 बजे करें? 9 बजे करें? रात को करें? कब भजन करें?

 

हम कहते हैं, हाँ! वो नियम है… सुबह में करो, शाम में करो, अच्छी बात है। लेकिन आज का काल बदल चुका है।

 

शायद नियम न निभा पाओ तो दीया जब जलाओ उजाला हो सकता हैकभी भी दीप जलाओ उजाला हो जायेगा, कभी भी हरि नाम लो बात बन जाएगी। शुरू कर दो, विलम्ब मत करो, शुरू कर दो।

 

मोरारी बापू के शब्द

Morari Bapu Kirtan Radha Radha Krishna Radha Oldham, Manchester 1986 UK
जय सियाराम

 

पढ़ें : भगवान की भक्ति कैसे करें?

पढ़ें : दुःख दूर करने के उपाय

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.