Krishna all Makhan Chori leela in hindi

Krishna all Makhan Chori leela in hindi

(बाल कृष्ण की माखन चोरी लीलाएं)

भगवान श्री कृष्ण की सबसे अच्छी और प्यारी कोई बचपन की लीला है तो वह माखन चोरी लीला है। भगवान श्री कृष्ण प्रतिदिन गोपियों के यहाँ माखन चुराने जाते थे। अनेक लीलाइए आपको सुनने के लिए मिल जाएगी। भगवान की लीला सुनने को तभी मिलती है जब भगवान अपनी कृपा करे। भगवान श्री कृष्ण की अलग-अलग माखन चोरी लीला का यहाँ वर्णन किया गया है। जो आपके सारे संशय मिटा देगा। और आपके मन में जो भी प्रश्न है आपको सवतः ही उनके जवाब मिल जायेगे?

krishna makhan chor kyo hai?
bhagwan ne makhan kyo churaya?
bhagwan shri krishna ki makhan chori ki best leelaye kon si hai?

आइये पढ़िए-

Part -1 : इसमें भगवान श्री कृष्ण चिकसौली वाली गोपी के यहाँ जाकर माखन चुराते है। नीचे दिए लिंक पर क्लिक करके विस्तार से लीला पढ़े ।

Krishna Makhan Chori Leela Part 1 (कृष्ण माखन चोर लीला भाग 1)

 

Part -2: इस लीला में भगवान अपने ही घर में माखन चुरा रहे है। और यह भी बताया है की भगवान ने माखन क्यों चुराया है। सुन्दर आध्यात्मिक और लौकिक पक्ष रखा है। नीचे दिए लिंक पर क्लिक करके विस्तार से लीला पढ़े।

Krishna Makhan Chori Leela Part 2 (कृष्ण माखन चोर लीला भाग 2)

 

Part-3 : इस लीला में जब भगवान माखन चुराते है तो एक घंटी बज जाती है। जिस घंटी को गोपियों ने बाँधा था। विस्तार से लीला पढ़ने के लिए नीचे दिए लिंक पर क्लिक करें।

Krishna Makhan Chori Leela Part 3(कृष्ण माखन चोर लीला भाग 3)

 

Part-4 इस लीला में एक गोपी यशोदा माँ से शिकायत करती है की आपके लाला ने मेरे ससुर से मुझे डांट लगवाई। विस्तार से लीला पढ़ने के लिए नीचे दिए लिंक पर क्लिक करें।

Krishna Makhan Chori Leela Part 4(कृष्ण माखन चोर लीला भाग 4)

 

Part-5: इस लीला में माँ यशोदा कन्हैया को घर से नहीं निकलने देती और सभी गोपियाँ उलाहना देने के बहाने भगवान श्री कृष्ण के घर जाती है। विस्तार से लीला पढ़ने के लिए नीचे दिए लिंक पर क्लिक करें।

Krishna Makhan Chori Leela Part 5(कृष्ण माखन चोर लीला भाग 5)

 

 

Read: Krishna Ukhal Bandhan Leela(कृष्ण ऊखल बंधन लीला)

5 thoughts on “Krishna all Makhan Chori leela in hindi

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.