Bhakt Dhruv Story/Katha in hindi

Bhakt Dhruv Story/Katha in hindi भक्त ध्रुव की कहानी/कथा स्वयाम्भुव मनु और शतरूपा जी के दो(2) पुत्र और तीन(3) पुत्रियां थी। पुत्रों के नाम थे प्रियव्रत और उत्तानपाद। उत्तानपाद जी की दो रानियां थी सुनीति और सुरुचि। लेकिन राजा का सुरुचि से अधिक प्रेम था और सुनीति से कम था। सुरुचि के पुत्र  का नाम […]

Continue reading