Life/Jivan me Kya Karna Chahiye

Life/Jivan me Kya Karna Chahiye

जीवन में क्या करना चाहिए?

जीवन में क्या करना चाहिए?(Jivan me kya karna chahiye) ये प्रश्न सभी के जीवन का एक महत्वपूर्ण प्रश्न है। हमने किसी फुटबॉल के खिलाड़ी को खेलते हुए देखा तो मन में आता है हम क्यों न फुटबॉल के खिलाड़ी बन जाते हैं। किसी क्रिकेटर को देखा तो क्रिकेटर बनने की सोचते हैं, किसी हॉकी प्लेयर, बॉक्सर या जो भी आपके खेल के खिलाड़ी हो तो हम सोचते हैं कि हम भी ऐसा कर लेते हैं। लेकिन थोड़ा विचार करना वो करने के लिए आपको जी और जान लगा देनी पड़ेगी। आपका विचार रोज रोज बदलना नहीं चाहिए। जैसे आपने किसी समाजसेवी को देखा तो आपका मन करेगा कि मैं भी समाजसेवी बन जाता हूँ। इसकी समाज में कितनी इज्जत है। किसी एक्टर को देखा तो मन में एक्टर बंनने का हो जाता है। बड़ा ही विचलित करने वाला ये प्रश्न है।

अब प्रश्न खड़ा होता है कि क्या पूरा घर चलाने की ज़िम्मेदारी आप पर है। अगर हाँ, तो आप बार बार सोचोगे कि घर के लिए रोटी दाल
का इंतजाम कैसे करोगे। आज 10 हजार की नौकरी करने में 10 घंटे निकल जाते हैं। उसकी बात थोड़ा अलग करते हैं जो extra ordinary हैं। और जो ज्यादा कमाते हैं उनके कभी कभी जीवन का भी कोई लक्ष्य नहीं होता है। तो दोस्तों, सबसे पहले आपको अपना लक्ष्य निर्धारित करना होता है। ऐसा नहीं है आप एक बार में ही लक्ष्य निर्धारित कर लोगे। कई बार हमें खुद नहीं पता चल पाता है कि क्या करें? हमारी रूचि किस चीज में है।

हम सोचते हैं कि हम सब कुछ कर सकते हैं। घबराने की जरूरत नहीं है। आपको कोई भी काम पसंद है वो आप करना शुरू कीजिये। अगर आप नौकरी करते हैं तो उसी के बीच समय निकालिये या फिर घर आने के बाद। क्योंकि आपको समय तो देना ही पड़ेगा। केवल ख्याली पुलाव पकाने से बात नहीं बनने वाली है। आपको जो पसंद है आप उसे करिये एक दिन, दो दिन, तीन दिन, चार दिन, 1 महीना, 2 महीना। यदि उसको करते करते आपका दिल नहीं भरता है। मन करता है कि ये काम करता रहूं करता रहूं तो आप उस काम को लक्ष्य बना सकते हो। अगर आपका मन 5-7 दिन में ही ऊब जाता है तो आप ये काम नहीं कर पाएंगे।

लेकिन हताश बिल्कुल भी नहीं होना है। बस जिस काम को आप घंटों बिना थके कर सकते हैं ये मान लीजिये आप उसमें माहिर हो सकते हैं या माहिर हैं तभी कर पा रहे हैं। लेकिन आपको उस काम को समय तो देना पड़ेगा। जैसे किसी को संगीत सीखना है तो उसकी रूचि भी होनी चाहिए और संगीत के किसी अध्यापक से सुर की जानकारी भी लेनी पड़ेगी। आप घर बैठे मोहम्मद रफ़ी साहब की तरह बन जाओ, बिना कुछ करे ये मुमकिन नहीं है। हाँ, कोई कोई गॉड गिफ्ट होते हैं उनकी बात अलग है। किशोरी कुमार साहब ने कहीं से संगीत ज्ञान नहीं सीखा था। बस थोड़ा बहुत ही जानकारी थी। लेकिन उसकी लग्न थी और भगवान की कृपा थी कि वो किसी भी गाने को सुर में गा सकते थे।

इसलिए जो चीज आपको सबसे अच्छी लगती है आप वो करें। ना कि किसी की देखा देखी करें। 2 चीज है, या तो सिर्फ आप पैसा कमाने के लिए कर रहे हैं या फिर आपका शौक है उस शौक को पूरा करने के लिए कर रहे है। पैसा किस्मत में होगा ना तो शौक से भी आ जायेगा। हाँ अगर आपके परिवार को सिर्फ पैसों की ही जरुरत है तो पहले आप छोटी मोटी नौकरी करके उस जरुरत को भी पूरा करें। उसे नजरअंदाज बिल्कुल भी ना करें। क्योंकि फिर ना तो आप अपने लक्ष्य को पूरा कर पाओगे और ना ही अपना परिवार चला पाओगे।

तो इस प्रश्न का उत्तर कि आपको जीवन में क्या करना चाहिए? इसका जवाब है जो भी चीज आपको सबसे ज्यादा पसंद है आप वो कीजिये ना कि किसी की देखा दिखी करके करें। जो भी अच्छा काम करके आपको खुशी मिले आप वो काम करिये। जिस काम में आपकी रूचि हो और ये तब पता चलेगा जब आप वो काम करना शुरू करेंगे। वो काम करते जाइये, करते जाइये। आपको खुद लगेगा कि आपकी रूचि है कि नहीं है। ज्यादा success story पढ़ने से कुछ नहीं होने वाला है। होगा तब ही जब आप उस काम को शुरू करेंगे। इसलिए टाइम टेबल बनाइये और उस काम में जुट जाइये।
आपको कुछ इस आर्टिकल में सुझाव देना हैं तो नीचे कमेंट कीजिये।

पढ़ें : सफलता कैसे मिलेगी
पढ़ें : क्यों बोली गई ये बात कि कर्म करो फल की चिंता मत करो

2 thoughts on “Life/Jivan me Kya Karna Chahiye

  1. Sir i am very happy your thoughts reading
    I like it sir

    I love u
    Sir you and your thoughts and think very great

    Salute sir aapko

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *