Rameshwaram Pooja vidhi in hindi

Rameshwaram Pooja vidhi in hindi

रामेश्वरम पूजा विधि

मानस सेतु राम कथा में मोरारी बापू से किसी ने पूछा कि

बापू ….  हम उसकी विधिवत् पूजा कैसे करें ?

बापू बोले – पूजा विधिवत् ही करनी पड़ेगी …..प्रेम बिना विधि करना होता है …..जब भी पूजा करो तो विधि आयेगी और मैं विधि का निषेध नहीं कर रहा हूँ ….अब विधि सुन लो ….करने मत जाना।

मूल विधि ऐसी बतायी है यहाँ कि पहले रामेश्वर अाओ और गंगाजल ना चढाओ …विधि मना कर रही है।

यहाँ अाओ, 1 दिन रहो, दर्शन करो, फिर यहाँ की मिट्टी ले लो और मिट्टी अपने साथ ले करके काशी जाओ और काशी के मणिकर्निका घाट पर गंगाजी में ये मिट्टी समर्पित करो क्यूँकी यहाँ की मिट्टी का कण कण महालक्षमी माना गया, ये धन माना गया, ये गंगा में विसर्जित करो।
फिर गंगा को कहो – माँ, 1 कलश गंगाजल दे।
फिर वो जल लेकर फिर टिकट कटाओ, रामेश्वर की विधि सुनो ….सुनो विधि ….फिर आकर आप गंगाजल चढाओ।

आज इतना व्यस्त आदमी ये कहाँ करेगा? उसमें कोई कहे गंगोत्री का जल लाओ, कोई कहे काशी का जल लाओ, अब ये दुविधा हो गई कि हम कौन जल लायें?

अब मैं बताऊँ …….दायीं आँख से शिव को देखकर 1 आँसू टपके वो गंगोत्री का जल और बायीं आँख से भी कोई अश्रू टपके तो ये काशी का जल ….वो कहीं भी टपके …..वहाँ रामेश्वर होगा।

रामेश्वर में जाकर टपके वो ज़रुरी नहीं है। मेरे महादेव को याद कर रुद्राष्टक गाते गाते तुम्हारी आँख से जब बारी बारी अश्रू निकलने लगे, तब तुम गंगोत्री से जल लाये हो, तब तुम काशी से जल लाये हो और वो जहाँ गिरे वहाँ शिवलिंग होगा ….राम स्थापित।

मोरारी बापू के शब्द
मानस सेतु
जय सियाराम

पढ़ें : शिव पार्वती विवाह कथा
पढ़ें : भगवान शिव कौन हैं

2 thoughts on “Rameshwaram Pooja vidhi in hindi

  1. मेरा नाम बलराम है और मैं रामेश्वर तीर्थ में एक पुरोहित हूं मेरा नंबर है 95978 36 729 और मैं आप लोगों की किसी भी प्रकार की सहायता कर सकता हूं तो आप इस नंबर पर फोन करके मुझसे रामेश्वरम के बारे में कुछ भी सहायता मांग सकते हैं धन्यवाद

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *