Difference Between Radha and Sita in hindi

Difference Between Radha and Sita in hindi राधा और सीता के बीच अन्तर कुछ लोग अपनी बुद्धिनुसार कहते हैं कि सीता जी और राधा रानी दोनों अलग अलग हैं। लेकिन मोरारी बापू राम कथा में कहते हैं कि किसी ने पूछा कि राधाजी को हम प्रियाजू कहते हैं और सीताजी को हम सियाजू कहते हैं। […]

Continue reading


Vaibhav Laxmi Vrat Katha/Story in hindi

Vaibhav Laxmi Vrat Katha/Story in hindi वैभव लक्ष्मी व्रत कथा/कहानी   एक शहर था। उसमें लाखों लोग रहते थे। सभी अपने-अपने कामों में रत रहते थे। किसी को किसी की परवाह नहीं थी। भजन-कीर्तन, भक्ति-भाव, दया-माया, परोपकार जैसे संस्कार कम हो गए। शहर में बुराइयाँ बढ़ गई थीं। शराब, जुआ, रेस, व्यभिचार, चोरी-डकैती वगैरह बहुत […]

Continue reading


Vaibhav Laxmi Pujan Vrat vidhi in hindi

Vaibhav Laxmi Pujan-Vrat vidhi in hindi वैभव लक्ष्मी पूजन-व्रत विधि  लक्ष्मी माता(Laxmi Mata) के शास्त्रों में 3 रूप बताये गए हैं। एक माँ का, दूसरा पुत्री का और तीसरा पत्नी का। पत्नी तो भगवान विष्णु की हैं। पुत्री भी आप मान सकते हैं। लेकिन सबसे अच्छा है माँ। क्योंकि एक माँ ही होती है जो बिना किसी […]

Continue reading


Maha Laxmi ji ki Aarti in hindi and English

Maha Laxmi ji ki Aarti in hindi and English महालक्ष्मी जी की आरती हिंदी और अंग्रेजी में यहाँ पर महालक्ष्मी जी की आरती है। जो भी भक्तगण महालक्ष्मी जी की आरती सच्चे मन से गाता है माँ उस पर जरूर कृपा करती हैं। बोलिए लक्ष्मी मैया की जय !! Mahalaxmi ji ki Aarti : महालक्ष्मी जी की […]

Continue reading


Navratri : Navratri puja and Nav Durga( 9 mata)

Navratri : Navratri puja and Nav Durga(9 mata) नवरात्र : नवरात्र पूजा और नव दुर्गा( 9 माता)   नवरात्रो में माँ दुर्गा के 9 रूपों कि पूजा कि जाती है |  नवदुर्गा माता कौन-कौन सी हैं? नवरात्रों में किन 9 माँ की पूजा की जाती है?   प्रथमं शैलपुत्री च द्वितीयं ब्रह्माचारिणी। तृतीयं चन्द्रघण्टेति कूष्माण्डेति […]

Continue reading


Navratri : Navratri kaise kiye jate hain

Navratri : Navratri kaise kiye jate hain नवरात्र : नवरात्र कैसे किये जाते हैं नवरात्रे क्या है ? नवरात्रो का महत्व क्या है ? क्यों किये जाते है नवरात्रे ? वर्ष की 4 नवरात्रियों में 2 मुख्य (चैत्र और अश्विन) नवरात्रि हैं। यह चैत्र, आषाढ़, आश्विन और माघ की शुक्ल प्रतिपदा से नवमी तक 9 […]

Continue reading