Satsang aur Kusang Kya hai?

Satsang aur Kusang Kya hai? सत्संग और कुसंग क्या है? सत्संग और कुसंग में क्या अंतर है? मोरारी बापू राम कथा में समझा रहे हैं कि कुसंग(Kusang) क्या है? सतसंग(Satsang) क्या है? उसका थोड़ा विश्लेषण …analysis …. 1. काम कुसंग है। राम सतसंग है। रति विहीन काम कुसंग है, केवल काम कुसंग है। भरत कहते हैं […]

Continue reading


5 June : World Environment Day in hindi

5 June : World Environment Day in hindi 5 जून : विश्व पर्यावरण दिवस    विश्व पर्यावरण दिवस(World Environment Day) पर्यावरण की सुरक्षा और संरक्षण हेतु पूरे विश्व में मनाया जाता है। 5 जून 1974 को पहला विश्व पर्यावरण दिवस(vishwa paryavaran diwas ) मनाया गया। लेकिन ये ख़ुशी की बात नहीं है। किसी का जन्म नहीं […]

Continue reading


Ganga Yamuna Nadi Bachao : Morari bapu ka nivedan

Ganga Yamuna Nadi Bachao : Morari bapu ka nivedan गंगा यमुना नदी बचाओ :  मोरारी बापू का निवेदन   आज भारत देश की बड़ी समस्याओं में से एक है कि सभी नदियां दूषित और प्रदूषित होती जा रही है। इन्हें बचाना बहुत जरुरी है। अब इनके लिए कुछ ठोस कदम उठाने की जरुरत है, नहीं तो […]

Continue reading


Guru Shishya ka sambandh kaisa ho?

Guru Shishya ka sambandh kaisa ho? गुरु शिष्य का सम्बन्ध कैसा हो? मोरारी बापू “मानस श्री” राम कथा में बताते हैं कि   जब कोई जीवित बुद्धपुरूष विदा ले …तो रोना कायरता नहीं …. रोना ही चाहिये। अमीर खुसरो के मुर्शिद निजामुद्दिन औलिया जब देह त्याग करते हैं और अमीर खुसरो को जब पता लगा […]

Continue reading


Buddha Purnima : Gautam Buddha inspirational Story in hindi

Buddha Purnima : Gautam Buddha inspirational Story in hindi बुद्ध पूर्णिमा : भगवान गौतम बुद्ध की प्रेरणादायक कहानी/कथा महात्मा बुद्ध(Mahatma Buddha) के जन्म दिन को बुद्ध पूर्णिमा(Buddha Purnima) के रूप में मनाया जाता है। इसे बुद्ध पूर्णिमा और बुद्ध जयंती भी कहते हैं। आपके सामने गौतम बुद्ध(Gautam Buddha) की एक छोटी सी और प्रेरणादायक कहानी है। […]

Continue reading


Narsingh Jayanti/Chaturdashi Wallpaper and Story in hindi

Narsingh Jayanti/Chaturdashi Wallpaper and Story in hindi नरसिंह जयंती/चतुर्दशी वॉलपेपर, फोटो और कहानी   नरसिंह जयंती(Narsingh jayanti) वैशाख मास के शुक्ल पक्ष की चतुर्दशी को मनाई जाती है।  प्रल्हाद जी नरसिंह भगवान(Narsingh Bhagwan) के परम भक्त थे। भक्त प्रल्हाद के कारण वैशाख मास के शुक्ल पक्ष की चतुर्दशी को नरसिंह भगवान(Narsingh Bhagwan) खम्बे से प्रकट हुए […]

Continue reading